बनु क़ुरैज़ा” के लोगों को क़त्ल करने का फैसला क्यों दिया?

शांति का मज़हब होने का मतलब यह नहीं है कि अपराधियों और दुष्टों को सज़ा ना दी जाए बल्कि शान्ति क़ायम रखने के किए अपराधियों को सज़ा देना ज़रूरी है। बनु क़ुरैज़ा के मर्दों को देशद्रोह, विश्वासघात और मदीना के तमाम मुसलमानों के क़त्ल की साज़िश के जुर्म में क़त्ल की सज़ा दी गई थी। […]