क्या इस्लाम सिर्फ एक दिनचर्या है ?

जवाब:-  इस तरह की पोस्ट लिखने के पीछे मकसद यह होता है कि किसी तरह लोगों को इस्लाम के बारे में जानने से रोका जाए और उनकी जिज्ञासाओं को समाप्त किया जाए। इसीलिए कुछ भी लिख कर ख़ुद ही व्याख्या कर दी जाती है कि यही इस्लाम है। और यह व्याख्याएँ इतनी मनगढ़ंत, दुर्बल और […]